Type Here to Get Search Results !

भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस बलके पद की जानकारी (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

0

परिचय

भारत-चीन संघर्ष के उपरांत देश की उत्तरी सीमाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए 24 अक्टूबर 1962 को भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपीएफ) का गठन किया गया। आईटीबीपी की शुरुआत केवल चार पलटनों के एक छोटे से दल के रूप में हुई जो अब 45 सेवा पलटनों और चार विशेषीकृत पलटनों का वृहत रूप ले चुका है। इस महीने यह बल अपने गठन के स्वर्ण जयंती वर्ष में प्रवेश कर रहा है। आईटीबीपी का मुख्य कार्य भारत-तिब्बत सीमा की सुरक्षा और रखवाली करना, सीमा की जनता को सुरक्षा की भावना प्रदान करना, महत्वपूर्ण व्यक्तियों की सुरक्षा और आंतरिक सुरक्षा कर्तव्यों का निर्वहन और आपदा प्रबंधन आदि करना है। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

9000 से 18700 फीट की ऊंचाई के बीच घटते बढ़ते 3488 कि॰मी॰ लंबे पर्वत क्षेत्र, शून्य से भी 45 डिग्री नीचे के पारे में चिलचिलाती सर्दीली जगहों, अथाह घाटियों, दुर्गम गड्ढों, अंधियारी नदियों, खतरनाक ग्लेशियरों, पथरीली ढालों और अदृश्य प्राकृतिक खतरों के बीच आईटीबीपी के जवान और अधिकारी अपने सेवा काल का एक बड़ा हिस्सा बिताते हैं। यह काराकोरम दर्रे (जम्मू कश्मीर में तिब्बत तक व्यापार का पुराना मार्ग) से अरुणाचल प्रदेश में दिफू ला तक विस्तृत है। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

आईटीबीपीएफ के चिन्ह में संक्षिप्तता से इसके लोकाचार का वर्णन है यानि, ‘बहादुरी और निष्ठापूर्ण प्रतिबद्धता’। एक आटीबीपी जवान अपने नमक के प्रति वफादार, अपने कर्तव्य के प्रति निष्ठावान और इंसानी या प्राकृतिक, किसी भी तरह की कठिन परिस्थिति में अडिग रहता है। वह चीजों में सुधार और उपलब्ध संसाधनों के अधिकाधिक इस्तेमाल के पथ पर चलता है। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

भूमिका

इस सेना ने 1965 में भारत पाक संघर्ष में हिस्सा लिया। दुश्मनों से लडकर इसने उन्हें युद्ध क्षेत्र से बाहर भगा दिया, पाकिस्तानी घुसपैठियों और सैनिक बलों को समाप्त करने के लिए तलाशी अभियान को अंजाम दिया और प्रमुख प्रतिष्ठानों को सुरक्षा प्रदान की। 1971 के युद्ध में इसकी दो पलटनों ने श्रीनगर और पुंछ क्षेत्र में घुसपैठियों के ठिकानों के अनेक क्षेत्रों की पहचान/पता लगाने और उन्हें नष्ट करने के विशेष कार्य को अंजाम दिया, इस अभियान के लिए इनकी काफी सराहना हुई। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

1978 में राष्ट्रीय आदेशों ने बलों की भूमिका को पुनः परिभाषित किया जिससे इसके मूल स्वभाव में परिवर्तन किया गया। एक बहुआयामी बल बनाने के लिए इसे विविध कार्य सौंपे गए। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

अपने दायित्व क्षेत्र में आईटीबीपी आईबी को संरक्षण प्रदान करती है। आईबी के साथ मिलकर यह सीमा पार से होने वाले अपराध और गुप्त सूचनाओं के संकलन, तस्करों और घुसपैठियों से पूछताछ और अंतर्राष्ट्रीय सीमा/एलएसी पर संयुक्त रूप से गश्त भी करती है। संवेदनशील क्षेत्रों में आईटीबीपीएफ सेना के साथ मिलकर काम करती है। शांति काल में यह अपने आप को पेशेवर तौर पर और अधिक तैयार और निपुण बनाती है ताकि समय आने पर वास्तविक चुनौतियों से निपटा जा सके। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

2003 में मंत्री समूह की संस्तुति यानि ‘एक सीमा एक बल’ को अंजाम देने के लिए आईटीबीपी को असम और अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन के पूर्वी क्षेत्र का उत्तरदायित्व सौंपा गया था और फलस्वरुप पूर्वोत्तर में युगांतरकारी रूप से आईटीबीपी प्रविष्ट हुई। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

दुर्गम सड़क संपर्क के कारण पूर्वोत्तर क्षेत्र में सीमा की रखवाली पश्चिम और मध्य क्षेत्र की रखवाली से कहीं अधिक कठिन है। सीमा की रखवाली के अतिरिक्त यह बल पूर्वोत्तर राज्यों में आंतरिक सुरक्षा कर्तव्यों का भी निर्वहन करती है। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में आईटीबीपी की ऊंची चौकिया अन्य बलों से कहीं आगे हैं। आईटीबीपी के जवानों को हिम-तूफानों, हिम-स्खलनों और भू-स्खलनों का लगातार सामना करना पड़ता है। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

ITBP Logo
ITBP Logo

भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस बलके पद (ITBP) की रैंक एवं उनके बैज (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

1. महानिदेशक (DG) [Director General (DG)]

Director General
Director General

भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस बल (ITBP) के सर्वोच्च अधिकारी को महानिदेशक कहा जाता है| महानिदेशक के वर्दी पर तलवार और डंडा क्रॉस के रूप में रहते हैं जिनके ऊपर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है| ITBP में कार्यरत सभी जवान महानिदेशक के अधीन होते हैं। महानिदेशक का एक अहम रोल होता है फोर्स में जिसको प्रत्येक अधिकारी अपनी जिम्मेदारी समझ कर बखूबी निभाते हैं। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

2. अतिरिक्त महानिदेशक (ADG) [Additional Director General (ADG)]

Additional Director General
Additional Director General

अतिरिक्त महानिदेशकके वर्दी पर तलवार और डंडा क्रॉस के रूप में रहते हैं जिनके ऊपर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है|

नोट: ITBP के महानिदेशक (DG), अतिरिक्त महानिदेशक (ADG) कीवर्दी पर एक समान निशान होता है।

3. महानिरीक्षक या इंस्पेक्टर जनरल (IG) [Inspector General (IG)]

Inspector General
Inspector General

महानिरीक्षक या इंस्पेक्टर जेनरलके वर्दी पर तलवार और डंडा क्रॉस के रूप में रहते हैं जिनके ऊपर पंचभुजाकार सितारे (star) का निशान होता है|एक DIG के कंधों पर लगभग 01 ग्रुप केंद्र यानिकि लगभग 05 बटालियन मतलब 5000 जवान एक DIG के Under Command में होते हैं। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

4. उप महानिरीक्षक (DIG) [Deputy Inspector General (DIG)]

Deputy Inspector General
Deputy Inspector General

उप महानिरीक्षक के वर्दी पर तीन, पंचभुजाकार सितारे (star) त्रिभुजाकार रूप में रहते हैं जिनके ऊपर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है|

5. कमांडेंट या सेनानायक (CO) [Commandant (CO), SSP Tiger]

Commandant
Commandant

कमांडेंट या सेनानायक के वर्दी पर दो, पंचभुजाकार सितारे (star) के ऊपर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है|एक Commandant के कंधों पर लगभग 01 बटालियन मतलब 1000 जवान एक Commandant के Under Command में होते हैं। Commandant एक बटालियन का सर्वेसर्वा होता है जिसके अधीन पूरी बटालियन जवान कार्य करते हैं। ITBP में यह Rank सबसे महत्वपूर्ण मानी गयी है। भारत सरकार के द्वारा एक Commandant को काफी Power दी गयी हैं जो कि जवानों के Welfare/operations से संबंधित होती हैं। (Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

6. सेकेण्ड कमांडेंट (2 IC) [Second in Command (2 IC), SP]

Second in Command
Second in Command

सेकेण्ड कमांडेंटके वर्दी पर पंचभुजाकार सितारे (star) के ऊपर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है|

7. उप कमांडेंट या डिप्टी कमांडेंट (DC) [Deputy Commandant (DC), Additional SP]

Deputy Commandant
Deputy Commandant

डिप्टी कमांडेंट के वर्दी पर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ का निशान होता है|

8. असिस्टेंट कमांडेंट या सहायक कमांडेंट (AC) [Assistant Commandant (AC), Equivalent to DSP]

Assistant Commandant
Assistant Commandant

असिस्टेंट कमांडेंटके वर्दी पर तीन, पंचभुजाकार सितारे (star) का निशान होता है|

9. सूबेदार मेजर [Subedar Major]

Subedar Major
Subedar Major

सूबेदार मेजर वर्दी पर भारत के राष्ट्रीय चिन्ह अशोक स्तम्भ ओर लाल एवं नीले रंग की दो स्ट्रिप (पट्टी) का निशान होता है।

10. इंस्पेक्टर या निरीक्षक [Inspector]

Inspector
Inspector

इंस्पेक्टर के वर्दी पर तीन, पंचभुजाकार सितारे (star) और लाल एवं नीले रंग की दो स्ट्रिप (पट्टी) का निशान होता है।

11. सब इंस्पेक्टर या उप निरीक्षक (SI) [Sub Inspector (SI)]

Sub Inspector
Sub Inspector

सब इंस्पेक्टरके वर्दी पर दो, पंचभुजाकार सितारे (star) और लाल एवं नीले रंग की दो स्ट्रिप (पट्टी) का निशान होता है|(Indo Tibetan Border Police Force Ranks)

12. सहायक उप निरीक्षक या असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) [Assistant Sub Inspector (ASI)]

Assistant Sub Inspector
Assistant Sub Inspector

सहायक उप निरीक्षक के वर्दी पर पंचभुजाकार सितारा (star) और लाल एवं नीले रंग की दो स्ट्रिप (पट्टी) का निशान होता है|

13. हेड कांस्टेबल [Head Constable]

Head Constable
Head Constable

हेड कांस्टेबलके वर्दी पर तीन रैंक शेवरॉन (तीन धारियों वाली पट्टी) का निशान होता है|

14. कांस्टेबल [Constable]

Constable
Constable

कांस्टेबलके वर्दी पर कोई निशान नहीं होता है।

इसेभी देखे – ॥ भारतीय सेना के पद की जानकारी Indian Army Ranks (इंडियन आर्मी रैंक) ॥ भारतीय वायु सेना के पद की जानकारी (Indian Air Force Ranks) ॥ भारतीय सेना ॥ Aadesh.guru ॥ अष्टांग योग (Ashtanga Yoga) ॥

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ